जानिए आखिर क्या है जिगोलो मार्किट (Gigolo Market) दिल्ली का सच?

0
162
जिगोलो मार्किट

जिगोलो मार्किट : जिगोलो यानी पुरुष वेश्याएं, जी हाँ अपने बिल्कुल सही पढ़ा पुरुष वेश्याएं. सुनकर काफ़ी अटपटा लग रहा होगा, लेकिन आज आपके और ह्मारे बीच में बहुत जिगोलो रहते हैं जिनका शायद आपको पता भी न हो न ही चल पाए. वेश्यावृति का व्यवसाय विश्व में सबसे पुराना व्यवसाय माना जाता है. वेश्यावृति का यह बाज़ार आपके और हमारे जन्म से भी बहुत पहले से चल रहा है. आपने भी स्त्री वेश्याओं के बारे में पढ़ा या सुना ज़रूर होगा. वेश्यावृति के इस बाज़ार में स्त्री वह खिलौना है जिसे पुरुष अपनी वासना मिटाने के लिए प्रयोग करता है और अपनी वासने मिटने पर उसे पैसे देकर छोड़ देता है. सदियों से चले आ रहे इस बाज़ार में स्त्रियों का वेश्या होना लाजमी है लेकिन, पश्चिमी सभ्यता के बढ़ावे और आधुनिकता के नाम पर वेश्यावृति के इस व्यवसाय में अब शायद महिलायें ही काफ़ी नही.

क्या है जिगोलो मार्किट दिल्ली (Gigolo Market Delhi Address) का सच?

पश्चिमी सभ्यता और समुदाय के अनुसार मर्द जब चाहे अपनी वासना मिटाने के लिए किसी वेश्या का सहारा ले सकता है लेकिन स्त्रियाँ अपना मन मारकर कहा जाए. इसलिए एक नए व्यवसाय का जन्म हुआ जिसे जिगोलो या पुरुष वेश्याएँ भी कहा जा सकता है. दिल्ली और मुंबई समेत कई बड़े शहरों में मर्दों के जिस्म का कारोबार बड़ी तेजी से फैल रहा है। इसे जिगोलो मार्केट (Gigolo Market) के नाम से भी जाना जाता है।

जिगोलो मार्किट दिल्ली (Gigolo Market in Delhi)

शाम होते ही जिगोलो मार्किट सज जाती है जिगोलो का इस्तेमाल महिलाएँ अपनी वासना पूर्ति के लिए करती हैं. महिलाओं की तरह ही वेश्यावृति के बाज़ार से पैसे कमाना पुरुषों के लिए भी आम हो गया है. जिगोलो यानी की पुरुष वेश्याओं के लिए तो यह काम ऐसा है की आम के आम और गुटलियों के भी दाम. परंतु इसके पीछे की एक सचाई ये भी है कि, कई लोगों से शारीरिक संबंध बनाने से इन पुरुष वेश्याओं को एड्स (एक यौन संक्रमित रोग) भी हो जाता है. इन पुरुष वेश्याओं का अधिकतर प्रयोग विद्वाओं या उन महिलाओं द्वारा किया जाता है जिनको किसी कारण अपनी पति से यौन सुख नहीं मिलता. पश्चिमी सभ्यता के कदमों पर चलने वाले भारतीय युवाओं का इस व्यवसाय में उतरना जंगल में आग की तरह फैला, क्युकि युवाओं को इस काम में कोई मेहनत भी नज़र नहीं आती और अच्छी ख़ासी कमाई भी हो जाती है. कुछ युवा ग़रीबी और बेरोज़गारी के चलते भी ये पेशा अपना लेते हैं.

जिगोलो मार्किट दिल्ली की उत्पत्ति (Gigolo Market in Delhi)

पश्चिमी देशों की नकल करना तो भारतीय युवाओं के लिए एक फैशन बन चुका है, और युवाओं के लिए पैसा कमाना जिंदगी से बढ़कर हो गया है तो ऐसे में वो किसी काम को घिनोना या बुरा नहीं मानते. युवाओं के लिए पैसा कमाना जिंदगी से बढ़कर हो गया है तो ऐसे में वो किसी कम को घिनोना या बुरा नहीं मानते. गौर किया जाए तो समाज में पुरुष वेश्याओं के आने का कारण भी हमारा समाज ही है. क़ानून की नज़र में ये व्यवसाय मान्य नही है और स्त्री वेश्यावृति की भाँति ही इसे भी गैर क़ानूनी माना जाता है.

क्या है जिगोलो मार्किट दिल्ली का सच? देखें वीडियो

Gigolo Market in Delhi Address

जिगोलो मार्किट वैसे तो सभी शहरो में हैं. बड़े-बड़े घर की महिलाए इस पर बहुत पैसे लुटाती हैं. पर अगर देखा जाय तो दिल्ली जिगोलो मार्किट (Gigolo Market 2018 ) सबसे अधिक लोकप्रिय और चर्चा में हैं. बहुत से लोग तो इंटरनेट पर Gigolo Market Delhi Address ढूंढ़ते हैं. और महिलाए Gigolo Market का आनंद लेती हैं. बहुत सी महिलाए Gigolo Market in Delhi के बारे में जानकारी हांसिल करके वहां जाती हैं. Gigolo Market Delhi Address इंटरनेट पर बहुत खोजा जाने वाला शब्द हैं.

Gigolo Market 2018

वैसे तो हर वर्ष जिगोलो मार्किट (Gigolo Market ) में बहुत अधिक तागात में महिलाए आती हैं, परन्तु Gigolo Market 2018 में पिछले वर्ष की भांति बहुत अधिक महिलाओ की बढ़ोतरी हुए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here