डरावनी कहानियाँ

0
120
डरावनी कहानियाँ

एक ऐसी कहानी जो की सबसे डरावनी है क्या आपने वो सुनी है ?

डरावनी कहानियाँ पिछले हफ्ते मैंने अपनी पत्नी को मार डाला था. मुझे इतना डर था कि कहीं मेरा बेटा पूछता कि उसकी मां कहाँ थी, लेकिन उसने नहीं पूछा. रात के खाने पर उसने मुझे एक अजीब हैरानी भरे चेहरे से पूछा. “पिताजी, आप अपनी पीठ पर माँ को क्यों लिए हुए हैं?”

भारत में भी कुछ ऐसी ही दिल दहलाने वाली 5 भूतिया जगह है, जिनकी डरावनी कहानियाँ आप को रात भर जगाए रखेगी. जिसके बारे में जानकर आप दहशत से भर जाओगे. ऐसी 5 भूतिया जगह जिनकी डरावनी कहानियाँ मशूहर हैं और यहाँ पर बहुत सी रहस्यमयी मौतें और अचानक गायब होने की ख़बरे आई हैं. भारत के भूतहा स्थान में सबसे पहेले स्थान पर है.

1.भानगढ़ किला – अजबगढ़, अलवर, राजस्थान

डरावनी कहानियाँ

ऐतिहासिक खंडहर और भूत की डरावनी कहानियाँ इस जगह को बहुत ही रोमनाचकारी बनाती है. प्रसिद्ध, भानगढ़ किले को देश में सबसे प्रेतवाधित स्थान माना जाता है. यह जयपुर और दिल्ली के रास्ते पर स्थित है. भानगढ़ किला राजस्थान के अलवर जिले में बनाया गया 17 वीं सदी का किला है. इसे भू बंगाल के रूप में भी जाना जाता है, जो की आपके होश उड़ा देगा. भारत में सबसे भयानक स्थानों में से एक, उल्लेख करने के लिए, संभवतः आप कल्पना कर सकते हैं, सबसे खराब, डरावनी जगहों में से एक है. एक लोकप्रिय जंगल के पास स्थित, यह शहर अब धीरे-धीरे सभी गलत कारणों से पूरे इलाके और देश के पर्यटकों को लुभाने का एक कारण बन रहा है. अगर कभी आप इस जगह पर जाना चाहते है तो सूर्यास्त से पहले जाए. क्यूंकि सूर्यास्त के बाद यह जगह बहुत ज़्यादा ख़तरनाक हो जाती है.

डरावनी कहानियाँ

इसके पीछे की कहानी के अनुसार एक जादूगर जो स्थानीय राजकुमारी के साथ प्यार में पड़ गया था. काला जादू के स्वामी होने के नाते, उसने उसे आत्मसमर्पण करने के लिए उस पर एक जादू डालने का फैसला किया, पर रानी को उसकी योजनाओं के बारे में पता लग गया और उसने उस जादूगर को मरवा डाला. अपनी मौत से पहले जादूगर ने राजमहल पर काला जादू डाल दिया और उस जगह को शापित कर दिया. एक बार जब रात ढलती है और अंधेरा शुरू हो जाता है, तब यह जगह निर्जन हो जाती है, जिसे यह माना जाता है कि यहाँ ‘अलौकिक’ शक्तियाँ प्रवास करतीं हैं. इस जगह को भारत सरकार ने सबसे प्रेतवाधित स्थानों कि स्तुति में डाला है.

2. कुलधारा – राजस्थान

डरावनी कहानियाँ

कुलधारा गांव लोकप्रिय रूप से एक निर्जन भूतिया गांव के रूप में जाना जाता है जो की कि 1800स शताब्दी के बाद से छोड़ दिया गया है. 13 वीं शताब्दी के आसपास, यह एक बार समृद्ध गांव था जो पालीवाल ब्राह्मणों द्वारा बसाया गया था. 19वीं शताब्दी की शुरुआत से अज्ञात कारणों के कारण, संभवतः पानी की आपूर्ति में कमी के कारण, या स्थानीय किंवदंतियों के दावों के कारण इसे छोड़ दिया गया था. गांव एक खंडहर में स्थित है. पालीवाल ब्राह्मण द्वारा 1291 में स्थापित, जो एक बहुत ही समृद्ध वंश थे और अपने व्यापारिक दक्षता और कृषि ज्ञान के लिए जाने जाते थे. यह कहा गया है कि 1825 में एक रात कुलधारा के सभी लोग और करीब 83 गांव अंधेरे में गायब हो गए थे.

डरावनी कहानियाँ

इस रहस्य के बारे में कहानियाँ इस तथ्य में शामिल हैं कि राज्य के मंत्री सलीम सिंह ने एक बार इस गांव का दौरा किया और शादी करने का इच्छुक, सरदार की सुंदर बेटी के साथ प्यार में पड़ गया. मंत्री ने ग्रामीणों को यह कहते हुए धमकी दी कि अगर वे उस लड़की से शादी नहीं करेंगे, तो वह भारी कर लगाएगा. उस गांव के आसपास के कई इलाक़ों के साथ, गांव के प्रमुख ने लड़की के सम्मान की रक्षा के लिए कहीं और स्थानांतरित करने का फैसला किया. ऐसा कहा जाता है कि गांव वालों ने गांव पर एक जादू  कर डाला, जिससे वहाँ पर बसने की कोशिश करने वाले वहाँ पर ना बस सके. इस जगह की डरावनी कहानियाँ आज भी लोगों के दिलों में ख़ौफ़ बनाए हुए हैं.

3. डुमास बीच, सूरत-गुजरात

डरावनी कहानियाँ

बीच, जहाँ लोग घूमने जाते हैं समंदर की हवा खाने व रेत में टहलने जाते हैं. पर क्या ऐसी, जगह भी आपको डरा सकती है. ऐसी ही एक जगह है गुजरात का डुमास बीच, गुजरात में अरब सागर के किनारे स्थित, यह समुद्र तट अपनी काली रेत और रहस्यमय गतिविधियों के लिए जाना जाता है. इसके शांत सौंदर्य के अलावा, यह भारत में सबसे प्रेतवाधित समुद्र तट है, यह हिंदुओं के लिए एक अंतिम संस्कार स्थल है. यहाँ पर कई अशिक्षित और परेशानी वाली घटनाएं घटित हुई हैं जैसे अजीब फुसफुसाते हुए, रात के दौरान गायब लोग. ऐसा कहा जाता है की बहुत से लोग इस जगह पर खूबसूरत रात में अपनी जान से हाथ धो चुके हैं.इस तरह की डरावनी कहानियाँ आप को यहाँ आपनी और खींच कर ले आएगी. यह भी माना जाता है कि इस समुद्र तट को लंबे समय से एक हिंदू दफन ज़मीन के रूप में इस्तेमाल किया गया था, इसे अत्याचारित आत्माओं का विश्राम स्थान कहा जाता है. यहाँ रहस्यमय तरीके से गायब लोगों की रिपोर्ट भी हुई है और वो कभी भी वापिस नही लौटे हैं.

डरावनी कहानियाँ

4. संजय वन (Near Qutub Institutional Area) – नई दिल्ली

डरावनी कहानियाँ

संजय वन एक विशाल वन क्षेत्र है जो लगभग 10 किलोमीटर दूर है. लोगों ने एक सफेद साड़ी पहने एक महिला को देखा है और उस क्षेत्र के समीप अंतिम संस्कार जमीन के आसपास गायब होते हुए देखा है. कोई आश्चर्य नहीं कि इस क्षेत्र को दिल्ली में सबसे प्रेतवाधित जगह माना जाता है. जंगल में सूफी संतों के कई मस्जिदों को असाधारण ऊर्जा से भरा हुआ माना जाता है, क्योंकि वन पूरी तरह से उजाड़ है. भटके हुए यात्री जो कभी कभी जंगल के अंदर ठोकर खाते हैं अक्सर उनसे अचयनित आवाज़  की शिकायत करते हैं. आप इस जगह पर अपने अगले पिकनिक की योजना क्यों नहीं करते हैं?

डरावनी कहानियाँ

5. सुरंग 33, शिमला

डरावनी कहानियाँ

कर्नल बरोग, जो सुरंग 33 के प्रभारी थे, ने पहाड़ की दोनों (विपरीत) छोर से सुरंग को उबालने की गलती की, जो कि काफी सामान्य है, क्योंकि यह निर्माण तेज़ करता है इसलिए चालक दल को हिस्सों में विभाजित किया गया था, जो सुरंग को विपरीत छोर से खुदाई करके नष्ट करने में लग गये. मज़दूर दोनों ओर से बोर करते रहते थे, लेकिन पहाड़ के केंद्र को पार करने के बाद भी मिला नहीं पाए थे.

डरावनी कहानियाँ

ब्रिटिश सरकार ने कर्नल बरोग को दंडित किया और उनपर 1 रुपये के रूप में वह सरकार की संपत्ति बर्बाद करने का आरोप लगाया गया था, कर्नल बरोग का अवसाद काफी बढ़ गया और उन्हें इस बात से बड़ा दुख हुआ. बाद में उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया, मजाक उड़ाया गया  जिससे वो अवसाद से परेशान हो गये थे और उन्होने खुद को गोली मार दी. इस सुरंग को किसी और के द्वारा पूरा किया गया था. उन्हें सुरंग के सामने दफनाया गया. जिससे उस सुरंग को उनके नाम पर रखा गया था. जाहिर तौर पर उनका भूत अभी भी सुरंग में घूमता है, लेकिन वह दोस्ताना है. स्थानीय लोगों को भी सुरंग में चिल्लाने वाली एक महिला और सिगरेट को जलाने के लिए माचीस माँगता हुआ एक आदमी पूछता हैं. सुरंगे स्वाभाविक रूप से भयानक जगह होती हैं, यह सुरंग बहुत गीली और नम दीवारों के साथ काफी डरावनी है और इस तरह की कहानियाँ इसे एक डरावना सच बनाती हैं.

भारत की और 5 भूतिया जगह हैं, इनकी डरावनी कहानियाँ आपके शरीर में एक ठंडी सी सनसनाहट छोड़ जाएगी

1. ताज महल होटल, मुंबई (Taj Mahal Hotel, Mumbai)
2. खैरताबाद साइंस कॉलेज, हैदराबाद (Khairatabad Science College, Hyderabad)
3. लोथियन कब्रिस्तान, दिल्ली (Lothian Cemetery, Delhi)
4. बैंगलोर इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (बीआईएएल), बैंगलोर (Bangalore  International Airport Limited (BIAL), Bangalore)
5. लंबी देहर खान, मसूरी ( The Lambi Dehar Mines)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here