पीलिया में क्या खाएं क्या ना खाएं, जानिए कैसे बचा जा सकता है इस रोग से

0
445
पीलिया में क्या खाएं
पीलिया में क्या खाएं

पीलिया में क्या खाएं: किसी ने भी सच ही कहा है कि पेट सही तो दुनिया सही और पेट खराब तो पूरा शरीर खराब. जी हाँ, पेट हमारे शरीर का ऐसा हिस्सा है जिसका दरुस्त रहना बेहद आवश्यक है. क्यूंकि यदि पेट में गड़बड़ी हो तो उसका सीधा असर हमारे पाचन तंत्र पर पड़ता है. पीलिया अर्थात जॉन्डिस एक ऐसी बिमारी है, जो हमारे पाचन तंत्र के कमजोर होने से हमें आ घेरती है. इस रोग में पीड़ित व्यक्ति के शरीर में खून की कमी हो जाती है और उसका पूरा शरीर कमजोर पड़ जाता है. ऐसे में हर व्यक्ति के मन में एक ही सवाल उठता है कि पीलिया में क्या खाएं जिससे यह रोग ठीक हो जाए?

तो दोस्तों, आज के इस ख़ास लेख में हम आपको पीलिया में क्या खाएं और क्या ना खाएं के बारे में बताने जा रहे हैं. लेकिन इससे पहले हम आपको बता दें कि पीलिया हेपेटाइटिस ‘ए’ या हेपेटाइटिस ‘सी’ वायरस के कारण फैलता है. चलिए जानते हैं इसके लक्ष्ण क्या क्या हो सकते हैं और इस अवस्था में कौन कौन से आहार खाने से हम स्वस्थ रह सकते हैं.

पीलिया के लक्ष्ण

  • बार बार बुखार रहना.
  • आँखें कमजोर व पीली पड़ना.
  • त्वचा और नाखूनों पर पीलापन नजर आना.
  • उल्टियाँ आना और जी मचलना.
  • मूत्र का रंग हल्का फीका या सफेद पड़ना.
  • वज़न में भारी गिरावट.
  • भूख में कमी और पेट में दर्द बना रहना.
  • जल्दी थकावट और कमजोरी महसूस करना.
  • आँखों और सिर में दर्द व भारीपन

पीलिया में क्या खाएं

किसी भी रोग के बेहतर इलाज के लिए जरूरी है कि हम अपने खान-पान का ख़ास ध्यान रखें क्यूंकि बहुत से ऐसे पदार्थ हैं, जिन्हें खाने से रोग के बढने के आसार दुगुने हो जाते हैं. ऐसे में यदि आप सोच रहे हैं कि पीलिया में क्या खाएं और क्या ना खाएं तो यह लेख केवल आपके लिए है-

मूली के पत्तों का सेवन

पीलिया में क्या खाएं और क्या ना खाएं, यह सवाल लगभग हर पीलिया मरीज़ के मन में उठता ही है. ऐसे में बता दें कि मूली के पत्तों का सेवन पीलिया में रामबाण साबित हो सकता है. इसके लिए आप मूली के पत्तों को अच्छे से पीस कर उनका रस निकाल लें. अब आधा लीटर रस रोज़ाना पीएं इससे आपको बहुत जल्द आराम मिलेगा.

नारियल पानी है बेहतर

पीलिया के रोग में रोगी के शरीर में पानी की कमी हो जाती है. ऐसे में आप पीलिया में क्या खाएं के विषय में सोच रहे हैं तो बता दें कि इस अवस्था में नारियल का पानी बेहद फायदेमंद माना गया है. यह पानी एक प्राकृतिक देन है जिसमे लो कैलोरीज होती हैं साथ ही यह शरीर में पानी की बराबर मात्रा बनाए रखता है.

गन्ने का जूस

पीलिया में गन्ने का जूस पीना बेहद लाभकारी साबित होता है. अधिकतर डॉ. पीलिया में गन्ने का रस पीने की ही सलाह देते हैं. इसमें अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं जो शरीर की कमजोरी दूर करके उर्जा की भरपाई करते हैं.

हरी सब्जियों का सेवन

हरी सब्जियों में विटामिन बी और लाइकोपीन अधिक मात्रा में मौजूद होता है. जिससे हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता दुगुनी हो जाती है. ऐसे में यदि आप पीलिया में क्या खाएं क्या ना खाएं के बारे में सोच रहे हैं तो हरी सब्जियां आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकती हैं.

यह भी पढ़ें: अलसी के औषधीय गुण

5 (100%) 1 vote[s]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here