हरसिंगार का पौधा है गुणों से भरपूर, इन रोगों के लिए है रामबाण

0
1410
हरसिंगार का पौधा
हरसिंगार का पौधा

हरसिंगार का पौधा: आज के समय में “पेड़ लगाओ” का नारा पूरे जग में फैला हुआ है. इस बात को चाह कर भी झुठलाया नहीं जा सकता कि पेड़-पौधे मनुष्य को स्वच्छ जीवन प्रदान करते हैं. दरअसल, पेड़- पौधों से मिलने वाली ऑक्सीजन हर मनुष्य के लिए जरूरी है. इसलिए अधिकतर लोग अब घरों में छोटे-मोटे पौधे लगा कर हरियाली बनाएं रखते हैं. घर में लगाए जाने वाले पौधों में से हरसिंगार का पौधा भी एक है. इसके फूलों की सुगंध ना केवल आपको तरो ताज़ा अनुभव देती है बल्कि वातावरण को शुद्ध करके नकारात्मक उर्जा को भी दूर रखती है. हरसिंगार का पौधा चाय बनाने के लिए भी उपयोगी है. इस पौधे से बनी चाय बेहद स्वादिष्ट होती है.

दूसरी और हरसिंगार का काड़ा भी कईं रोगों के लिए रामबाण साबित होता है. आज हम आपको इस लेख में ‘हरसिंगार के पौधे के गुण एवं फायदे बताने जा रहे हैं, जिनसे शायद आप पहले से वाकिफ नहीं होंगे. लेकिन इससे पहले आपको बता दें कि इस पौधे को वास्तुशास्त्र दृष्टि में भी उत्तम माना गया है. ऐसी मान्यता है कि इस पौधे को घर में लगाने से दरिद्रता का नाश होता है और धन लाभ होता है.

हरसिंगार का पौधा खांसी में है लाभकारी

हरसिंगार का पौधा खांसी का इलाज करने के लिए रामबाण औषधि है. इसकी चाय पीने से हर तरह की कफ से निजात मिल जाता है. इसके लिए हरसिंगार के पौधे की दो पत्तियां और फूल ले लें, अब इसमें तुलसी की कुछ पत्तियां मिला कर एक गिलास पानी में उबाल लें. उबलने के पश्चात इसे ठंडा करके पी लें. स्वाद बढाने के लिए इसमें आप शहद या मिश्री भी डाल सकते हैं. इस चाय को कुछ लोग हरसिंगार का काडा भी कहते हैं.

हरसिंगार का पौधा

हरसिंगार के पौधे से जोड़ों के दर्द से मिलेगा निजात

हरसिंगार का पौधा जोड़ों के दर्द को गायब करने के लिए भगवान का वरदान है. इसके लिए हरसिंगार के 6-7 पत्ते लें और उन्हें अच्छे से पीस लें. अब इनका पेस्ट पानी में डाल कर तब तक उबालें, जब तक पानी उबल कर आधा न रह जाए. अब इसे ठंडा करके नियमित रूप से सुबह खाली पेट पीएं. इससे आपके जोड़ों से संबंधित समस्याएं दूर होंगी.

हरसिंगार के पौधे से बुखार को करें दूर

बुखार एक ऐसी बीमारी है, जो लगभग हर व्यक्ति जीवन में झेलता ही रहता है. लेकिन हरसिंगार का पौधा हर प्रकार के बुखार में उपयोगी है. इस पौधे की चाय से बुखार, मलेरिया, चिकगुनिया आदि रोगों से बचा जा सकता है. यह बुखार को नष्ट करके शरीर को उर्जा प्रदान करता है.

हरसिंगार का पौधा बवासीर में है उपयोगी

बवासीर एवं पाइल्स एक गंभीर समस्या है जिससे बहुत से लोग परेशान है. गौरतलब है कि बवासीर का एलोपेथिक इलाज संभव नही है. ऐसे में हरसिंगार का पौधा इस बीमारी के लिए उत्तम औषधि समान माना गया है. इसके लिए हरसिंगार के बीज का सेवन करें या फिर इसी पत्तियों का लेप बना कर पीड़ित स्थान अर्थात गुदाद्वार में लगाएं.ऐसा करने के एक से दो हफ्ते के दौरान ही आपको बवासीर में राहत अनुभव होगी.

यह भी जानें :- हल्दी के औषधि गुण

5 (100%) 5 vote[s]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here