Home टेक्नोलॉजी ब्लू व्हले सुसाइड गेम(Blue Whale suicide challenge game)

ब्लू व्हले सुसाइड गेम(Blue Whale suicide challenge game)

246
0
SHARE
Blue Whale suicide challenge game
Blue Whale suicide Game
ब्लू व्हले सुसाइड गेम(Blue Whale suicide challenge game)
5 (100%) 1 vote

आज के समय में टेक्नोलॉजी इतनी ज़्यादा उन्नत हो गई है कि लोग अपने हर काम के लिए इंटरनेट पर निर्भर होने लगें हैं. इस टेक्नोलॉजी ने जहाँ लोगों कि ज़रूरतों का समाधान निकला है वहाँ यही टेक्नोलॉजी एक मुसीबत भी बन गई है. हम बात कर रहें हैं एंड्रॉइड फोन और इंटरनेट गेम्स की. जब से इनका दौर शुरू हुआ है लोग अपना ज़्यादा समय अपने फोन्स में ही व्यतीत करतें हैं. यहाँ तक की छोटे बच्चे भी अब शारीरिक खेलों से ज़्यादा महत्त्व इन एंड्रॉइड फोन गेम्स को देते हैं और इसी टेक्नोलॉजी का फायदा उठाते हुए लोगों ने कई अलग अलग तरह की गेम्स बना दी है (ब्लू व्हले सुसाइड चैलेंज गेम).

शायद ही ऐसा कोई इंसान होगा जिसे खेल खेलना पसंद न हो और जैसा की आपने सुना ही होगा आज कल ब्लू व्हले गेम्स बहोत ज़्यादा चर्चा में हैं. इस खेल की वजह से कई मासूम बच्चे अपनी जान गवाँ बैठें हैं. ये एक ऐसा खेल है जिससे न सिर्फ बच्चे बल्कि बड़े भी अपनी जान गवां बैठें हैं. इसलिए इस खेल को सुसाइड गेम भी कहा जाता है.
इस खेल की शुरुआत रूस में एक Phillip Budeikin नाम के एक लड़के ने की है और अभी तक 130 से ज़्यादा लोग इस खेल की वजह से अपनी जान से हाथ धो बैठें हैं.

कहा जाता है मरने वालों की संख्या में सबसे अधिक 15 -16 साल से नीचे के बच्चे हैं. इस खेल को खेलने वाले व्यक्ति को प्रशासक (एडमिनिस्ट्रेटर ) के द्वारा अलग अलग कार्य (टास्क) दिए जातें हैं जिसे पूरा करना आवश्यक होता है तभी खेलने वाला दूसरे पड़ाव पार कर सकता है जिसमें कुल 50 लेवल हैं और अंत में खेलने वाले को सुसाइड करना होता है जिससे ये गेम पूरी हो जाती है.
इस खेल को बनाने वाले Phillip Budeikin को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है पर फिर भी कई लोग और बच्चे इस खेल को बड़ी दिलचस्बी के साथ खेलतें हैं. यह खेल किसी प्ले स्टोर पर नहीं मिलती बल्कि इसे फेसबुक या इस्टाग्राम के ज़रिये अपलोड किया जाता है.

प्लेयर और एडमिन के बीच का रिलेशनशिप (ब्लू व्हले सुसाइड चैलेंज गेम)

इस खेल में प्लेयर का सीधा संपर्क एडमिन के साथ होता है. पूरा खेल एडमिन और प्लेयर के रिलेशनशिप पर निर्भर होता है. जिसमें एडमिन प्लेयर को अलग अलग कार्य (टास्क) करने को कहता है. यह कुल 50 कार्य होते हैं जिन्हें प्लेयर को पूरा करना ज़रूरी होता है. 50 टास्क यानि की 50 दिनों का खेल. कुछ टास्क तो एडवांस में दिए जातें हैं जिन्हें पूरा करने के बाद, प्लेयर को उसकी फोटो एडमिन को भेजनी पड़ती है और जब एडमिन उसे अनुमोदन देगा तभी वह टास्क पूरा माना जाता है. अंतिम कार्य सुसाइड करना होता है जिससे वह गेम पूरी हो जाती है.

ब्लू व्हले गेम को खेलने का तरीका

इस खेल को इंटरनेट से सिर्फ डाउनलोड कर सकतें हैं. इस खेल का डायरेक्ट कोई भी लिंक इंटरनेट में नहीं मिलता आप इस खेल को तभी खेल पाएगें जब एडमिन खुद प्लेयर को इस खेल को खेलने के लिए निमंत्रण लिंक भेजेगा. और उसके बाद आप इस खेल को अपने डेस्कटॉप या मोबाइल में खेल सकतें हैं.
इस खेल को खेलने का पूरा समय 50 दिनों का होता है. हर दिन एडमिन के द्वारा एक नया कार्य दिया जाता है, जो की बोहोत ज़्यादा पीड़ादायक कार्य होतें हैं. और आखिरी दिन सुसाइड कर के इस खेल का अंत करना होता है. एक बार इस खेल को खेलने के बाद बीच में इसे छोड़ा नहीं जा सकता. यदि ऐसा करने की कोशिश की तो एडमिन मानसिक रूप प्रताड़ित करता है.

आइये जानतें हैं 50 दिनों के वो रूल्स कौन कौन से हैं

1 हर सुबह 4:20 am पर उठाना.
2 उठ कर डरावनी फिल्में देखना.
3 डरावने गाने सुन्ना.
4 इन फिल्मों और गानों का चयन एडमिन खुद चयन करता है.
5 अपने हाथों पर हर दिन ब्लेड से कट मरना.
6 अपने हाथों पर वहेल लिखना.
7 अपने घर के छत पर जा के एक कोने में बैठना.
8 अपने स्टेटस में लिखना “आए ऍम वहेल”.
9 अपने होंठों को काटना.
10 अकेले रहना.
11 स्काइप पर किसी वहेल से बात करना.
12 कसम खा लेना की आप खुद एक व्हेल हो.

इस तरह के कई कार्य होतें हैं जो एडमिन प्लेयर को करने के लिए कहता है. और जो जो कार्य एडमिन प्लेयर को करने के लिए कहता है उस हर कार्य को करने के बाद प्लेयर को उसकी फोटो खिंच कर एडमिन को भेजनी होती है. ये कार्य तभी पूरा मन जाता है जब एडमिन उसको सहमति देता है.
इस खेल का शिकार ज़्यादा तर किशोर बच्चे होतें हैं. इस बात का तबतक पता नहीं चलता जब तक ऐसी बातें वायरल न हों. और जब तक पता चलता हैं तब तक बोहोत देर हो चुकी होती हैं.

माता पिता की सतर्कता

ऐसे में सभी माता पिता को अपने बच्चों के लिए सर्तकता रखनी चाहिए. उन्हें अपने बच्चों के साथ दोस्ती और उनकी गतिविधियों पर नज़र रखना बोहोत ज़रूरी हैं. ताकि बच्चे उनसे अपनी हर बातें खुल कर कह सकें.
किशोर बच्चों का मस्तिष्क काफी जटिल और भ्रमित रहता है. इसलिए इनके साथ बड़ों जैसा व्यवहार नहीं करा जा सकता. बच्चे सिर्फ मन मौजी होतें हैं उन्हें अपने अच्छे बुरे की पहचान नहीं होती ऐसे में उनके माता पिता का फ़र्ज़ बनता हैं कि वो अपने बच्चों के साथ खुलकर बात करें.
जिन बच्चों के माता पिता अपने काम में व्यस्त रहने के कारण अपने बच्चों को समय नहीं दे पाते उन माता पिता के बच्चे ज़्यादा ऐसी चीज़ों का शिकार बनतें हैं क्युकीं वो बच्चे खुद को अकेला महसूस करते हैं. और अपना अकेला पन दूर करने के लिए वह इंटरनेट पर व्यस्त रहतें हैं तथा इस तरह के खेल खेलतें हैं (ब्लू व्हले सुसाइड चैलेंज गेम).
ऑनलाइन की दुनिया में बच्चे ऐसी बहुत सी चीज़ों के संपर्क में आ जातें हैं जिनके बारे में उन्होंने कभी सुना भी नहीं होता. इसलिए ऐसे में बच्चों की गतिविधियों के बारें पता होना आवशयक है कि वो क्या कर रहें हैं. उन्हें उनके अच्छे बुरे कि पहचान करवाना अनिवार्य है.
हमारे इस पोस्ट का मकसद आप सभी को इस “ब्लू व्हले सुसाइड चैलेंज” खेल के बारे में बताना है ताकि आप सभी अपने आस पास के बच्चों की गतिविधियों की जानकारी रख सके और किसी भी अनहोनी को होने से पहले रोक सके.

LEAVE A REPLY