Home रिलेशनशिप्स एक्स्ट्रा अफेयर के साइड इफेक्ट्स

एक्स्ट्रा अफेयर के साइड इफेक्ट्स

589
0
SHARE
Extra affairs side effects
Extra affairs side effects
एक्स्ट्रा अफेयर के साइड इफेक्ट्स
Rate this post

एक्स्ट्रा अफेयर के साइड इफेक्ट्स :

यदि आप एक ऐसे रिलेशनशिप में हैं जिनका भविष्य में कोई वजुत नहीं है तो, आपको अपनी निजी ज़िन्दगी में खुद के एक्स्ट्रा अफेयर के साथ चौकन्ना रहना बोहुत ज़रूरी होता है. क्यूँकि एक्स्ट्रा अफेयर की वजह से कई बार हमें अन्य बोहुत से रेलशन के साथ कोम्प्रोमाईज़ करना पड़ता है |(Extra affairs Side Effects)

आइये जानते है कुछ ऐसे ही एक्स्ट्रा अफेयर्स के बारे में.

अपने रिश्ते को एन्जॉय करने के साथ बोहुत सारी सावधानियों को ध्यान में रखना भी ज़रूरी है. फिर चाहे अपनी अन्य ज़िम्मेदारियों को भूल कर किसी अन्य रिश्ते को एंजोय कर रहे हों लेकिन आप कुछ ज़िम्मेदारियों को इग्नोर नहीं कर सकते.

शादीशुदा होने के बावजुद भी किसी अन्य रिश्ते के साथ जुड़ने के साइड इफ़ेक्ट | (Extra affairs Side Effects)

शादी एक खुद से सोच समझ कर लिया गया निर्णय होता है. इस बंधन को हम खुद चुनते हैं. लेकिन यदि इस रिश्ते के आलावा किसी और रिश्ते में पड जाये तो ये याद रखना ज़रूरी है कि अगर किसी तरह आपके लाइफ पार्टनर को आपसे एक्स्ट्रा अफेयर के बारे में पता चल गया तो वह किसी भी तरह से इसे स्वीकार नहीं कर पायेगा. ऐसे में आपके पारिवारिक रिश्तों का क्या अंजाम हों सकता है वो भी सोचना अनिवार्य है.

रिलेशनशिप कमिटमेंट.

किसी भी रिश्ते को सही ढंग से चलाने के लीये किसी कमिटमेंट का होना अनिवार्य है. ये किसी भी रिलेशनशिप को कंटिन्यू रखने की एक बेसिक्स ज़रूरत समजी जाती है. यदि आप किसी रिश्ते को सिर्फ टाइमपास समज कर निभा रहें हों तो उसमे खुदी ऐसे अघोषित कमिटमेंट अपने आप चले आते हैं. तो ऐसे रिश्ते के कोड ऑफ़ कंडक्टस का ध्यान रखना भी अनिवार्य है.

भावनात्मक रिश्ते :

भावनात्मक रिश्ते ऐसे हैं जिनका भविष्य में कोई वजूद नहीं है. ऐसे रिश्तों में लोग अकसर इस बात को मान लेते हैं की तो क्या हुआ भविष्य में वे साथ न हों पर जब तक चाहें इस रिश्ते को निभा तो सकते हैं और ऐसी ही समझ को इग्नोर कर वे अपनी तस्वीरें इंटरनेट जैसे सोशल मीडिया पे उपलोड कर देते हैं जिसका असर उनके आने वाले भविष्य पे काफी बुरा असर पड़ता है . अक्सर अपनी भावनाओं को एक दायरे में रखना बोहुत ज़रूरी है ताकि यदि आपका पार्टनर किसी भी वजह से मूव करना चाहें तो उसका आपकी निज़ी ज़िन्दगी में न पड़े.

कुछ ऐसी सावधानियां जिनका असर आपकी निज़ी ज़िन्दगी में न पड़े |(Extra affairs Side Effects)

किसी रिलेशनशिप में बिना शादी किये बेडरूम सहरे करना आपका खुद का निर्णय होता है. पर अगर आपका रिलेशनशिप लम्बे समय का नहीं है तो आपको कॉन्डम और हाइजीन का ध्यान रखना भी जरुरी है ताकि आप भविष्य में होने वाली किसी तरह की अनवॉन्टेड प्रेग्नेंसी या किसी घातक बीमारी से बच सके.

रिश्तों का अंत :

यदि आप पहले से ही ऐसे किसी रिश्ते से बंधे है जिसका आपको पता है की भविष्य में इसका कोई वजुद नहीं है तो भी ऐसे रिश्ते का अंत बहोत कष्टदाई होता है. क्यूँकि कुछ रिश्ते हमेशा चाह के भी भूलने बहोत मुश्किल होते हैं इसलिए किसी भी रिश्ते की शुरुआत करने से पहले बहोत सोच समझ के कदम उठाना चाहिए.

LEAVE A REPLY